Sad Shayari kaise batau tujhe

Sad Shayari kaise batau tujhe

 

Sad Shayari-कैसे बताऊ तूझे

 

Sad Shayari kaise batau tujhe
Sad Shayari kaise batau tujhe

 

kaise batau tujhe

सा नही के में तुझे याद नही करता
तेरे आने पे यहाँ तुझे मिलने को नही तडपता
ये न सोच लेना बिन तेरे जीने की आदत हो गयी है मुझे
तुझे न पाने का गम ही है जो सामने अब आ नही सकता मेरी जान ये कैसे बताऊ तूझे

न थी बेवफाई किसी की ये तो किस्म्त का खेल था
जानते थे मंजिल हमारे प्यार की रह जायेगी अधूरी फिर भी दिलो मे मेल था
मजबूरी से हो गये दोनों ही दूर कुछ कर न पाये
एक दूजे से बिछड़ कर रह भी नही सकते थे दूर होकर मर भी न पाये

पर जब कभी आ जाता है तू यहाँ तेरे सामने चाहकर भी आ नही सकता
देख के तेरा चेहरा वो दिल का दर्द भुला नही सकता
तुझे देख के होता है पछतावा के तू मेरा होकर भी मेरे पास नही
तुझे बाहों में लेकर करता है मन जोर से रोने का पर फिर होगा क्या आगे ये अहसास नही

ये न सोचना में तुझे देखना नही चाहता हर पल तडपता हु तुझे देखने के लिए
पर क्या करे इस जिन्दगी में सिर्फ रब से मागा था तुझे पर तू बनी थी किसी और के लिए