Sad Shayari baatein adhuri reh gayi

Sad Shayari baatein adhuri reh gayi

Sad Shayari-बाते अधूरी रह गयी 

Sad Shayari baatein adhuri reh gayi
Sad Shayari baatein adhuri reh gayi

baatein adhuri reh gayi

कुछ बाते जो उसने कभी न कही वो अधूरी रह गयी
हर बार पूछने पर टालती रही वो जो बाते उसने कभी न कही
कुछ हमारी जीवन से जुडी बाते थी जो हम कभी जान न पाये
वो बाते उनके साथ ही रह गयी और वो हो गये पराये

जब भी जानने की कोसिस की हमने वो उस बात से मुकर गये
सिर्फ वादे ही करते रहे वो वादों न जाने उनके किधर गये
हम हमेसा उसे पाना चाहते थे यही हमारी भूल थी
उसने तो किया था सिर्फ इस्तेमाल हमारा उसे जुदाई कबूल थी

अक्सर हम किसी के दिल की बात समझ नही पाते
उसके दिल में क्या है ये हम जान नही पाते
जब करते है समझने की कोसिस वो उस बात से मुकर जाते है
न जाने क्या सोचते है जो साथ नही देते और डर जाते है

डर अक्सर उसी को होता है जिसके दिल में किसी के लिए प्यार न हो
जो सिर्फ इस्तेमाल करे हमारा जिसे कभी  हमारा इंतजार न हो