love shayari sacchi mohabbat

love shayari sacchi mohabbat

love shayari-सच्ची मौहब्बत

love shayari sacchi mohabbat
love shayari sacchi mohabbat

sacchi mohabbat

एसा नही के अब सच्ची मौहब्बत करने वाले दिल नही है
ये ते वक्त का तकाजा है यारो जो मौहब्बत का नजरिया कही है
अब भी सच्चे आशिक रोते है प्यार के लिए अपने
भले ही हो गया मोडल जमाना पर आशिको का प्यार वही है

वक्त के साथ इन्सान बदल गया
प्यार करने वालो का इमान बदल गया
जो कभी लेटरो में इजहार करते थे वो आज ऑनलाइन हो गये
ये वक्त और टेक्नोलोजी का कमाल है यारो जो प्यार भी अब आंन लाइन हो रहे है

कास हमारे समय में भी ये सुविधा होती
प्यार से अपने ऑनलाइन बात करते एक अलग ही खुसी होती
महीनों तक उसके लेटरो का इंतजार न करते
याद आने पर उससे ऑनलाइन फेस टू फेस बात करते

पर अपना समय जैसा भी था उसमे एक अलग बात थी
भले ही महीनों में होती अपने प्यार से मुलाकात थी
पर वो मिलना ही कमाल होता था
दुनियां में हर खुशी से बेमिसाल होता था