Sad Shayari sharabi ban gaye

Sad Shayari sharabi ban gaye

Sad Shayari sharabi ban gaye

 

Sad Shayari-शराबी बन गये

Sad Shayari sharabi ban gaye

 

sharabi ban gaye

उसके प्यार में कुछ बन तो न सके पर शराबी बन गये
उसके गम में थोडा थोडा पीना सिखा अब एक पल में पूरी बोतल पी गये
उसका क्या गया वो तो हमारा सकूं हमारी जवानी ले गयी
अच्छे खासे आदमी को सरार्बी का नाम दे गयी

हम कभी एसे न थे जैसी हालत आज हो गयी
जिस पे करते थे भरोसा वही हमें छोड़ के गयी
अच्छे खासे आशिक को बर्बाद कर गयी
कुछ बनना चाहते थे जिन्दगी में शराबी बना गयी

उसको याद करके अब तो रोज पिते है
जिन्दगी हो गयी है झंड अब तो एसे ही जीते है