hindi Shayari majaburi kya kya kara deti hai

hindi Shayari majaburi kya kya kara deti hai

hindi Shayari majaburi kya kya kara deti hai

 

 

hindi Shayari majaburi kya kya kara deti hai
hindi Shayari majaburi kya kya kara deti hai

majaburi kya kya kara deti hai

मजबूरी इंसान से न जाने क्या क्या करा देती है    
दुःख में भी न जाने क्यो जीना सिखा देती है
कुछ कर जाते है वो लोग जो अक्सर जिन्दगी से हार जाते है
जीने की चाहत होतो हुवे भी खुद को हमेसा के लिए खत्म कर जाते है

जीने की चाहत भी अजीब होती है
कभी हसाती है तो कभी रुला देती है 
व्यक्ति हर पल जिन्दगी से मायूस रहता है 
फिर भी वो हर गम खुसी खुसी सहता है

जिन्दगी में संघर्स न होता तो सायद जिन्दगी इतनी प्यारी न होती 
किस्मत हमे सब कुछ दे देती तो जिन्दगी सायद अधूरी न होती 
पर एसे में कहाँ किसी की जिन्दगी ही चल पाती 
हर किसी की मजबूरी ही सायद खत्म हो जाती