Bewafa Shayari matalabee hai log yahaan

Bewafa Shayari matalabee hai log yahaan

Bewafa Shayari –मतलबी है दुनिया सारी मतलबी है लोग यहाँ

Bewafa Shayari matalabee hai log yahaan
Bewafa Shayari matalabee hai log yahaan

matalabee hai log yahaan

मतलबी है दुनिया सारी मतलबी है लोग यहाँ
मतलब निकल जाने पर देते है धोखा लोग यहाँ 
हमने भी एसे ही मतलबी से धोखा खाया है 
जिससे थी हमेसा से प्यार की उम्मीद उसी से धोखा पाया है 

उसकी बेवफाई को भुलाना आसन नही होता
उसकी गली में जाने पर भला कोंन आसिक परेसान नही होता 
जहाँ हर जगह उसकी याद बसी होती है 
उसको देखने की आस बसी होती है 

वो तो चले जाते है छोड़ के गली सुनी हो जाती है 
फिर कहाँ किसी आसिक की हालत सभल पाती है 
हो जाते है वो मजनू गली गली फिरते है
यादो में उस बेवफा के चारो और से घिरते है 

 बेवफाओ के अंदाज भी निराले होते है 
दिखावटी प्यार से उनके हम अपना नीद अपना चैन खोते है
एक पल भी उनकी बेवफाई का अन्दाजा नही होता 
इसी लिए हर प्यार करने वाला खाता है बेवफाओ से दोखा