Sad Shayari fir se aa gaya

Sad Shayari fir se aa gaya

Sad Shayari fir se aa gaya

 

Sad Shayari -फिर से आ गया

Sad Shayari fir se aa gaya

 

fir se aa gaya

देखो वो दिन हर साल की तरह फिर से आ गया
जिस दिन तुमसे था पहली बार मिला वो दिन और आ गया
याद है हमे आज का दिन हमने तुमसे इजहार किया था
आज ही के दिन हम दोनों में प्यार हुवा था

वो डर डर के तुम्हारे सामने आये हम
तुम हां कहोगे या ना ये सोच के थोडा घबराए हम
पर बड़ी मुस्किल से अपने प्यार का इजहार कर पाये
मागी थी रब से दुवा जो तुम हमे मिल पाए

पर ये दिन बहुत याद दिलाता है तेरी
तेरा प्यार तो मिला पर तू अब नहि है जिन्दगी में मेरी
प्यार तेरा पाकर भी तुझे पा ना सका
जिन्दगी भर के लिये तुझे अपना बना ना सका

ये दिन हर साल तेरी याद दिलाता है
न जाने क्यों अक्सर हमे रुलाता है