Love Shayari pyaar mein chhup chhup ke milana

 

Love Shayari pyaar mein chhup chhup ke milana
Love Shayari pyaar mein chhup chhup ke milana

 

pyaar mein chhup chhup ke milana

प्यार में छुप छुप के मिलने का अहसास कैसा था
प्यासे को पानी और भूखे को भोजन मिलने जैसा था
 एक अजीब सी खुसी होती थी दिल में के आज उनसे मिलेंगे
उनकी बाहों में कुछ पल ही सही प्यार के फूल खिलेंगे

 वो अहसास कुछ खाश होता है
जब प्यार हमारा कुछ पल हमारे साथ होता है
दिल में एक अलग जूनून रहता है  के आज उनसे मिलने जाना है
चाहे कुछ भी हो जाये थोडा समय उसकी बाहों में बिताना है

यही सोच सोच के उस पल का इंतजार करते है
उस के साथ कुछ पल बिताने के लिए न जाने क्यों मरते है
निगाहे सिर्फ उसे देखती है और नजरे एक दूजे पे घुमती है
यों ही कुछ पल के लिए दोनों झूमते है

अब आती है  बिछड़ने की घड़ी बड़ा बुरा हाल  होता है
न जाने दोबारा कब मिलेगे किस्मत से ये सवाल होता है
पर प्यार में छुपके मिलने का एक अलग ही मजा है
प्यार का साथ मिल जाये जिन्दगी भर तो ठीक वरना जिन्दगी एक सजा है

दुनिया में कई लोग अपने प्यार से छुपके मिलते होंगे
उनके दिलो में भी चाहत के फुल खिलते होंगे
पर इतनी दुवा है रब से के सच्चा प्यार करने वालो को कभी जुदा न करना
दोनों प्यार करने वाले निभाये साथ किसी एक को बेवफा न करना