Sad Shayari baarish ki boonde

Sad Shayari baarish ki boonde

 Sad Shayari baarish ki boonde 

 

Sad Shayari – बारिश की बूंदे 

Sad Shayari baarish ki boonde
Sad Shayari baarish ki boonde

 

baarish ki boonde

वो बारिश की बूंदे याद तेरी दिलाती है
वो हल्की सी हवा अहसास तेरा दिलाती है
वो ठण्ड की चुभन से तेरे ठंडे हाथो का एहसास होता है
कुछ पल के लिए लगता है की तू अब भी मेरे पास होता है

तेरे ठंडे हाथो के लगाने से हम अक्सर सुभे जाग जाते थे
तुम आओगे हमे उठाने हम फिर दोबारा सो जाते थे
तेरे गिले बालो में वो पानी की बूदे याद आती है
जिनसे तुम हमे जगाती थी वो पल बड़ा सताती है

अक्सर जब भी बारिस आती है ख्याल तेरा बहुत सताता है
वो हर बात तेरी हमे अब भी बहुत रुलाता है
पर अब तो सिर्फ तेरी याद ही पास रह गयी मेरे
जाके हमसे दूर जिन्दगी में तू कर गयी मेरे अंधेरे